October 18, 2021

ममता का ‘मिशन दिल्ली’: पीएम से मिलीं, विपक्षी गठबंधन की अगुवाई पर कहा- देश करेगा नेतृत्व


ममता बनर्जी दिल्ली यात्रा: पांच दिनों के अपने दिल्ली दौरे के दूसरे दिन पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार शाम प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात की. ममता ने पीएम से मुलाकात को शिष्टाचार भेंट बताया और कहा कि उन्होंने पीएम से अधिक कोरोना टीके की मांग की. पीएम से मुलाकात के बाद मीडिया को संबोधित करते हुए ममता ने पैगासस जासूसी मामले की जांच की मांग करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री को इस मुद्दे पर सर्वदलीय बैठक बुलानी चाहिए. 2024 में विपक्षी गठबंधन का नेतृत्व करने के सवाल पर ममता बनर्जी ने कहा कि देश नेतृत्व करेगा, मैं नहीं!

विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान पीएम मोदी और सीएम दीदी में हुई जुबानी जंग के कारण दोनों की मुलाकात को काफी दिलचस्पी से देखा जा रहा था. पीएम मोदी के साथ ममता बनर्जी की मुलाकात करीब 50 मिनट चली. ममता ने कहा कि चुनाव के बाद प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति से शिष्टाचार भेंट के लिए वे दिल्ली आई हैं. पीएम से साथ मुलाकात के दौरान ममता ने कोरोना की तीसरी लहर से पहले अपने राज्य पश्चिम बंगाल में सबके टीकाकरण के लिए आबादी के मुताबिक ज्यादा टीकों की मांग की. इसके अलावा मुख्यमंत्री बनर्जी ने पश्चिम बंगाल का नाम बदल कर बांग्ला रखने के प्रस्ताव को मंजूरी देने की मांग भी प्रधानमंत्री के सामने रखी.

प्रधानमंत्री के अलावा ममता बनर्जी ने राष्ट्रपति से मिलने का समय भी मांगा है. ममता ने कहा कि वे कोरोना टीका के दोनों डोज लगवा चुकी हैं लेकिन राष्ट्रपति से मिलने के लिए RTPCR जांच जरूरी बताया जा रहा है. ममता बनर्जी ने अपने अंदाज में लाचारी व्यक्त करते हुए कहा कि दिल्ली में वे RTPCR जांच कहां करवाएंगी!

पीएम से मिलने के बाद अब ममता की सबसे बड़ी मुलाकात सोनिया गांधी से होनी है. बुधवार को शाम 4 बजे ममता बनर्जी कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से उनके आवास पर जाकर मिलेंगी. ममता ने कहा कि सोनिया गांधी ने उन्हें चाय पर बुलाया है. इससे पहले मंगलवार दोपहर कांग्रेस नेता कमलनाथ और आनंद शर्मा ममता बनर्जी से मिले. मुलाकात के बाद abp न्यूज से बात करते हुए कमलनाथ ने सवाल के जवाब में कहा कि जब ममता सोनिया गांधी से मिलेंगी तब 2024 लोकसभा चुनाव की रणनीति पर बात होगी. इस सवाल पर कि क्या ममता विपक्षी गठबंधन का नेतृत्व करेंगी, कमलनाथ ने कहा, “यह तय करने की बात है. ममता जी में बीजेपी को हराने की क्षमता है.”

हालांकि जब ममता बनर्जी से पूछा गया कि क्या वे विपक्षी गठबंधन का नेतृत्व करेंगी तो उन्होंने जवाब दिया कि देश नेतृत्व करेगा, मैं नहीं करूंगी. विपक्षी एकजुटता की उम्मीद के सवाल पर ममता ने कहा कि मैं हमेशा आशान्वित रहती हूं.

बुधवार दोपहर ममता बनर्जी ने अपनी पार्टी यानी तृणमूल कांग्रेस के सभी सासंदो की बैठक बुलाई है. गुरुवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी संयोजक अरविंद केजरीवाल ममता बनर्जी से मिलेंगे.

भारत को दहलाने की साजिश नाकाम: जम्मू पुलिस ने मार गिराया ड्रोन, 5 किलो IED बरामद

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: