October 18, 2021

Covid Vaccine: ब्रिटेन ने कोविशील्ड को तो मान्यता दे दी, लेकिन अभी कहां फंसा है पेंच? जानिए


कोविड का टीका: कोरोना वैक्सीन और भारत से ब्रिटने की यात्रा को लेकर पिछले कई दिनों से विवाद चल रहा है. ब्रिटेन ने पहले वैक्सीन की अपनी नई नीति में कोविशील्ड को मान्यता नहीं दी, लेकिन भारत की चेतावनी के बाद उसने अपनी वैक्सीन नीति में बदलाव करके कोविशील्ड वैक्सीन को मान्यता दे दी. बावजूद इसके अभी भी ब्रिटेन पर भेदभाव करने के आरोप लग रहे हैं. जानिए पूरा मामला क्या है.

कोविशील्ड लगवाने वाले यात्रियों को 10 दिन क्वारंटीन रहना होगा- ब्रिटेन

दरअसल ब्रिटेन के नए नियमों के मुताबिक, सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की तरफ से निर्मित कोविशील्ड टीके की दोनों खुराक लेने वाले भारतीयों को उन लोगों की तरह 10 दिन अनिवार्य रूप से होम क्वारंटीन में रहना होगा, जिन्होंने टीका नहीं लगवाया है. भारत ने ब्रिटेन के इन्हीं नियमों को लेकर कड़ी प्रतिक्रिया जताई है और चेतावनी दी है कि अगर ब्रिटेन ने इसकी चिंताओं का समाधान नहीं किया तो कड़े कदम उठाए जा सकते हैं.

ब्रिटेन का नियम ‘भेदभावपूर्ण’- भारत

सरकार ने कहा कि भारत का मानना है कि यहां कोविशील्ड टीका लगवाने वालों के लिए 10 दिन के क्वारंटीन का ब्रिटेन का नियम ‘भेदभावपूर्ण’ है और नई दिल्ली के पास भी इसी तर्ज पर जवाबी कदम उठाने का अधिकार है. साथ ही उम्मीद जताई कि जल्द ही इस मुद्दे का हल निकाल लिया जाएगा. इस बीच केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा कि दोनों देशों के बीच इस मुद्दे पर बातचीत जारी है और हमें भरोसा है कि जल्द ही समाधान निकल आएगा.

ब्रिटेन के अधिकारियों ने स्पष्ट किया था कि कोविशील्ड की दोनों खुराक लगवा चुके भारतीय यात्रियों को ब्रिटेन में अब भी दस दिनों के पृथक-वास में रहना होगा और कहा कि टीके को शामिल किए जाने से भी बहुत फर्क नहीं पड़ता है. उन्होंने कहा कि भारत से काफी संख्या में लोग ब्रिटेन आ रहे हैं, चाहे वे पर्यटक हों या व्यवसायी या छात्र.’’

यह भी पढ़ें-

Explained: अभी तक कितने राज्यों-केंद्र शासित प्रदेशों में 100 फीसदी व्यस्कों को लगी वैक्सीन की पहली डोज? जानिए

पेट्रोल कीमतें कम नहीं हो रहीं, क्योंकि राज्य इसे GST के दायरे में नहीं लाना चाहते- पेट्रोलियम मंत्री

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: